निशान या दाग हटाने के घरेलू उपाय

निशान या दाग हटाने के घरेलू उपाय

429
0
SHARE

चेहरे पर किसी भी तरह का निशान या दाग आपकी सुन्दरता और व्यक्तित्व को प्रभावित करता है।निशान या दाग केवल चेहरे पर ही नहीं बल्कि शरीर के किसी भी अंग पर हो सकता है। चूँकि चेहरा और शरीर का वो अंग जो कपड़ों से ढका हुआ नहीं होता, यदि इन सब जगहों पर कोई निशान या दाग दिखाई देता है तो व्यक्ति को बहुत परेशानी हो जाती है।कभी-कभी तो इन निशानों के कारण कुछ लोग अपना आत्मविश्वास भी खो देते है। निशान या दाग के कई कारण हो सकते हैं, जैसे :

  • जलने के कारण निशान या दाग हो सकते है।यदि किसी कारणवश शरीर का कोई अंग जल जाये तो उस जगह जलने का निशान हो जाता है।
  • कोई दुर्घटना के कारण जब गहरी चोट लगती है तब वही चोट आगे चलकर निशान का रूप ले लेती है।
  • मुंहासों के कारण भी चेहरे, गले, गर्दन या पीठ पर दाग या निशान बनते हैं।
  • किसी कीड़े-मकोड़े के काटने से भी निशान बन जाते हैं।
  • किसी तरह का खरोच भी दाग या निशान का कारण हो सकता है।
  • किसी प्रकार के ऑपरेशन या सर्जरी के कारण भी निशान हो सकता है।
  • गर्भावस्था के दौरान वजन तथा पेट बढ़ता है जिसकी वजह से पेट की त्वचा पर खिंचाव होता है और निशान बन जाते हैं।

निशान या दाग दूर करने के घरेलू नुस्खें

raw-ground-turmeric.jpg.653x0_q80_crop-smart

  1. हल्दी : किसी दुर्घटना के कारण लगने वाली गहरी चोट के निशान को मिटाने के लिए हल्दी बहुत ही असरदार है। एक जगह आवश्यकतानुसार पीसी हुई हल्दी लें और उसमें देशी घी मिलाकर अपनी उँगलियों की मदद से निशान पर लगायें।बीस मिनट बाद उसे धो लें। इस मिश्रण के निरंतर प्रयोग से आपके निशान कुछ ही दिनों में मिट जायेंगे।
  2. बेकिंग सोडा (Baking soda) : बेकिंग सोडा के प्रयोग से भी दाग या निशान को दूर किया जा सकता है। एक जगह एक चम्मच बेकिंग सोडा लेकर उसमें दो चम्मच पानी मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें।अब उसी पेस्ट से लगभग एक मिनट तक प्रभावित क्षेत्रों पर बहुत ही हलके हाथों से मालिश करें।उसके बाद गुनगुने पानी से धो लें।आप इसका प्रयोग मुंहासों के निशानों पर भी कर सकते हैं लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि इस मिश्रण का प्रयोग सिर्फ प्रभावित क्षेत्र पर ही करना है, यदि चेहरे पर आप इसका प्रयोग करते हैं तो केवल निशानों पर ही प्रयोग करें।इसके निरंतर प्रयोग से निशान मिट जायेंगे।
  3. एलोवेरा (Aloe Vera) : एलोवेरा प्राकृतिक रूप से निशान हटाने का एक प्रभावी तरीका है।एलोवेरा में कई तरह के औषधीय गुण होते हैं जो त्वचा की विभिन्न समस्याओं के साथ जलन, घाव और मुंहासों के दाग-धब्बों से मुक्ति दिलाता है।यह हर तरह के दाग-धब्बों को हल्का करने में मदद करता है।एलोवेरा का एक पत्ता लेकर उसे काटकर उसके अन्दर का रस निकाल लें।अब उसी रस को प्रभावित क्षेत्रों पर लगायें।आप चाहे तो एलोवेरा के रस में टी ट्री तेल की कुछ बूँदों को मिलाकर भी उसका प्रयोग कर सकते है।
  4. सेब का सिरका : मुंहासों की वजह से होने वाले काले दाग-धब्बों के लिए सेब का सिरका बहुत ही असरदार है। सेब के सिरके का प्रयोग आप कई तरह से कर सकते हैं।एक गिलास पानी में सेब के सिरके की कुछ बूंदें डालें और स्वाद के लिए थोड़ा-सा शहद मिलाकर उसका सेवन कर सकते हैं।इसके निरंतर सेवन से आपकी त्वचा के दाग-धब्बे धीरे-धीरे मिट जायेंगे।इसके अलावा एक से दो चम्मच सेब के सिरके में बराबर मात्रा में नींबू कारस मिलाकर एक मिश्रण तैयार करें, फिर उसमें रुई का गोला डूबोकर उसे प्रभावित क्षेत्रों पर लगायें, इस प्रयोग से आपके दाग या निशान दूर हो जायेंगे।इसके अतिरिक्त एक चम्मच सेब के सिरके में एक चम्मच पानी मिलाकर उस मिश्रण को रुई के गोले की मदद से प्रभावित क्षेत्रों पर लगाने से भी दाग-धब्बे मिट जायेंगे।सेब का सिरका आपके चेहरे को गोरा करने में अहम् भूमिका निभाता है।
  5. नींबू : नींबू घाव के निशान को हटाने में कारगर है साथ ही यह त्वचा के मृत कोशाकाओं को हटाकर नई कोशाकाओं के विकास में सहायक होता है। घाव के निशान को हटाने के लिए आधे नींबू का रस निचोड़ लें और एक रुई के गोले की मदद से निशान पर हलके हाथों से गोल-गोल मालिश करें। इसके निरंतर प्रयोग से एक ही महीने में निशान हट जायेंगे।मुंहासों के निशान पर भी नींबू का रस असर करता है।लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि नींबू के रस का सीधा प्रयोग अपने चेहरे पर न करें बल्कि नींबू के रस में दुगुनी मात्रा में पानी या गुलाबजल मिलाकर ही चेहरे पर प्रयोग करें अन्यथा आपकी त्वचा को नुकसान पहुँच सकता है।
  6. शहद : किसी भी तरह के घाव के निशान को प्राकृतिक रूप से कम करने में शहद काफी फायदेमंद है। शहद मृत कोशाकाओं को हटाकर नई कोशिकाओं को विकसित करके निशान को हल्का करने में मदद करता है।थोड़ा-सा शहद लेकर उसे निशान पर नियमित रूप से लगाने से निशान हल्का होता है। बेहतर परिणाम के लिए आप शहद में नींबू का रस मिलाकर भी प्रयोग कर सकते हैं।इस मिश्रण के प्रयोग से निशान जल्दी हट जाते हैं।
  7. आलमंड (Almond) का तेल : आलमंड का तेल दाग को दूर करने में बहुत मदद करता है।एक कटोरी में आलमंड का तेल लें और फिर उसे अपने निशानों पर लगाकर हलके हाथों से मालिश करें।इसके रोजाना इस्तेमाल से निशान या दाग धीरे-धीरे मिट जायेंगे।
  8. लैवेंडर (Lavender) का तेल : लैवेंडर में एंटीसेप्टिक (Antiseptic) गुण है जो घाव के निशान को जल्दी ठीक करने में मदद करता है।जलने की वजह से होने वाले निशान पर लैवेंडर का तेल लगाने से निशान जल्दी ही ठीक हो जाता है।
  9. जौ, हल्दी और दही का मिश्रण : जौ, हल्दी और दही को बराबर मात्रा में मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें।यह मिश्रण त्वचा के दाग को निकालने के साथ घाव भरने में भी मदद करता है।कीड़े का काटा हुआ हो या कोई चोट हो अथवा आग से जल गया हों, इन सभी क्षेत्रों में यह मिश्रण असरदार है। इस मिश्रण को लगाने से दर्द भी कम होता है और निशान भी मिट जाते हैं।
  • जैतून का तेल : गर्भावस्था के दौरान या किसी ऑपरेशन के कारण बनने वाले निशान के लिए जैतून का तेल बहुत ही प्रभावी है।एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidant) से भरपूर जैतून का तेल को हलके हाथों से मालिश करके इस तरह के निशानों से छुटाकारा पाया जा सकता है।
  1. मुलैठी : मुलैठी की जड़े किसी भी काले धब्बे को दूर करने में कारगर है। मुलैठी की जड़ों को पीस लें और उसमें शहद की कुछ बूंदें मिलाकर अपने चेहरे के प्रभावित क्षेत्रों पर लगायें और पंद्रह मिनट बाद पानी से धो लें। इसके रोजाना प्रयोग से दो हफ़्तों में ही आपको फर्क नजर आने लगेगा।
  • अंडा : अंडे का सफेद भाग मुंहासों के निशान को कम करने में सहायक होता है। एक अंडा फोड़कर उसके सफेद भाग को अलग कर लें, फिर उसे प्रभावित क्षेत्रों पर लगायें। दस से पंद्रह मिनट के बाद ठन्डे पानी से धो लें। इस उपाय से आपके मुंहासे भी कम होंगे साथ ही साथ मुंहासों के निशानों से भी आपको मुक्ति मिलेगी।
  • नीम : नीम अपने जीवाणु प्रतिरोधक गुण के कारण जाना जाता है। इसे प्राकृतिक एस्ट्रिंजेंट (Astringent) की तरह इस्तेमाल किया जाता है। नीम की पत्तियों को पीस लें, अब उसमें एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी, आधा चम्मच हल्दी आवश्यकतानुसार कच्चा दूध मिलायें।इन सबको अच्छे से मिलाकर अपनी त्वचा और निशानों पर लगायें।इसके प्रयोग से हर किस्म का दाग मिट जायेगा।
  • पपीता : पपीते में पपेन (Papen) नामक एंजाइम (Enzyme) होता है जो मृत कोशिकाओं को निकालने में मदद करता है।इसके निरंतर प्रयोग से मुंहासों के दाग पूरी तरह दूर हो जाते हैं।पपीते के कुछ टुकडों को पीसकर उसका रस निकाल लें और प्रभावित क्षेत्रों पर उसे दस मिनट तक लगाकर रखें। निर्धारित समय के बाद अपना मुँह ठंडे पानी से अच्छे से धो लें।यह बहुत ही असरदार उपाय है।
  • व्यायाम : कभी-कभी शरीर पर सफेद और पतली रेखाएं देखी जाती है। इन रेखाओं को कम करने के लिए व्यायाम लाभदायक होता है। व्यायाम करने से मांसपेशियां और त्वचा मजबूत बनती हैं और इस तरह की रेखाओं की समस्या भी कम होने लगती है।

Yoga-Studio-Guelph-2

उपर्युक्त घरेलू नुस्खों का प्रयोग करके आप हर तरह के निशान को हटा सकते हैं। यदि इन नुस्खों के प्रयोग के बाद भी आपके निशान न जाये तो किसी अच्छे त्वचा विशेषज्ञ की सलाह लेकर उपयुक्त जांच करवाएं। लेकिन साथ कुछ अच्छी आदतों को अपनाकर आप खुद को स्वस्थ और बेदाग रख सकते हैं, जैसे :

  • मुंहासे होने पर उसे हाथ या नाख़ून से न ही स्पर्श करें और न ही दबाएँ, इससे मुंहासों के निशान बन सकते हैं।
  • ज्यादा मात्रा में पानी पीयें इससे आपका पाचन तंत्र सही रहेगा।
  • अधिक मात्रा में बाहर का खाना या मसालेदार खाना न खायें।
  • पौष्टिक आहार का सेवन करें।
  • यदि आप किसी कारण से मेकअप का प्रयोग करते हैं तो बाद में उसे अच्छे से जरुर निकाल दें।
  • मानसिक तनाव से दूर रहें और पूरे आठ घंटे तक सोयें।
  • अपने रोजाना के खाद्य में कोई भी एक फल को जरुर शामिल करें।
loading...

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY