New Whatsapp Status in Hindi

0

WhatsApp Status latest 2016 & Hindi Shayari & Funny:-

Pyar ke kyi roop hote hai. Jinko aap pyar karte hai vo aksar vo log hote hai jinke saath rehna aur time bitana aapko acha lagta hai. Ye vo log hote hai jinhe kho dena aap sahan nhi kar sakte hai. Aur vo jinke bare me aap sabse jyada parvaah karte hai.

Dusri aur bhale hi koi aapke saath bura bartav (behave) kare ya aapko dukh pahuchaye, aap tab bhi unse sach much pyar kar sakte hai. Aap apne Mata – Pita, apni family aur apne doston ya kisi paltu janwar aur apne saathi ke liye alag alag roop me pyar mehsoos kar sakte hai.

Pyar Karna Aur Pyar Me Hona

Doston, Kisi ko pyar karna aur Kisi ke pyar me hona do alag alag baat hai. Ek rishte ki shuruwaatkisi ke pyar me hone jaisi hoti hai, jab aap dusre ki sirf achi cheeze hi dekhte hai aur ek tarah se apne aap ko ghane badlon me ghoomta hua mehsoos karte hai. Kuch time baad un bhavnao (feelings) me badlaav aa jaate hai, aur tab dusre person ke liye aapki bhavnaye aur gahri, stable, madhur aur parvaah karne wali ho jaati hai – Aap unhe pyar karne lagte hai.

 

रियासते तो आती जाती रहती हे,
मगर बादशाही करना तो..
आज भी लोग हमसे सीखते हे………..@

खेल ताश का हो या जिंदगी का ,
अपना इक्का तब ही दिखाना
जब सामने बादशाह हो ………..@

तुम गरदन जुकाने की बात करते हो ,
हम वौ है जो आंख उठाने वालो
की गरदन पऱसाद मै बाट देते है…………@

शायरी का बादशाह हुं और कलम मेरी रानी,
अल्फाज़ मेरे गुलाम है, बाकी रब की महेरबानी ………..@

अकल कितनी भी तेज ह़ो
नसीब के बिना नही जित सकती ,
बिरबल काफी अकलमंद होने के बावजूद
कभी बादशाह नही बन सका ………..@

जिंदगीमें बडी शिद्दत से निभाओ
अपना किरदार,
कि परदा गिरने के बाद भी तालीयाँ
बजती रहे………..@


हम आज भी शतरंज़ का खेल
अकेले ही खेलते हे ,
क्युकी दोस्तों के खिलाफ चाल
चलना हमे आता नही………..@

मुझको पढ़ पाना हर किसी के लिए मुमकिन नहीं,
मै वो किताब हूँ जिसमे शब्दों की जगह जज्बात लिखे है………..@

मेरी फितरत में नहीं अपना गम बयां करना ,
अगर तेरे वजूद का हिस्सा हूँ तो महसूस कर तकलीफ मेरी………..@

जनाब मत पूछिए हद हमारी गुस्ताखियों की ,
हम आईना ज़मीं पर रखकर आसमां कुचल दिया करते है………..@

इतना भी गुमान न कर आपनी जीत पर ” ऐ बेखबर “
शहर में तेरे जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के
हैं।………..@

खून अभी वो ही है
ना ही शोक बदले ना ही जूनून,
सून लो फिर से,
रियासते गयी है रूतबा नही,
रौब ओर खोफ आज भी वही हें ………..@

जीत हासिल करनी हो तो काबिलियत बढाओ,
किस्मत की रोटी तो कुत्तेको भी नसीब होती है………..@

उसने कहा मत देख मेरे सपने,
मुझे पाने की तेरी औकात नही
मेंने भी हस कर कहा………..@
पगली आना हो तो आजा मेरे सपनो मे
हकीकत मे आने की तेरी औकात नही………..@


इसी बात से लगा लेना मेरी शोहरत का अन्दाजा…
वो मुझे सलाम करते है, जिन्हे तु सलाम करता हैं………..@

वो तरस जाएँगी प्यार की एक बूँद के लिए;
मैं तो बादल हूँ किसी और पे बरस जाऊंगा………..@

ओरों की जमीन सिर्फ जमीन हे
और ;
हमारी जमीन एक गरदिश………..@

अगर परछाईयाँ कद से और बाते औकात से बडी होने लगे ;
तो समझ लो कि सूरज डूबने ही वाला है………..@

उनको डर है कि हम उन के लिए जान नही दे सकते,

और मुझे खोफ़ है कि वो रोएंगे बहुत मुझे आज़माने के बाद ………..@

दूर जा रहे हो तो सोंक से जाना ,.
बस इतना याद रखना ;
पीछे मुड़ने के देखने की आदत ईधर भी नही हे………..@

अपुन की जिंदगी ताश के इक्के की तरह हे ,
जिसके बगेर रानी और बादशाह भी अधूरे हे ………..@

जिसे आज मुजमे हजार एब नजर आते हे ,
कभी वही लोग हमारी गलती पे भी ताली बजाते थे………..@

वो जिस गली की रानी होने का गुरुर करती हे ,
नादान हे , इतना भी नही जानती !
उस सहेर के तो हम बादशाह थे ;
फर्क सिर्फ इतना था की हमने लोगो के दिलों पे राज किया………..@

ना पूछ मेरे सब्र की इन्तहा कहाँ तक है,
तू सितम कर ले तेरी ताक़त जहाँ तक है………..@

हजारों चेहरों में उसकी झलक मिली मुझको…
पर. दिल भी जिद पे अड़ा था कि
अगर वो नहीं  ,तो उसके जैसा भी नहीं………..@

हक़ से दो तो तेरी नफरत भी कुबूल है हमें ,
खैरात में तो हम तुम्हारी मोहब्बत भी न लें ………..@

आहिर हाथ किसी का थामकर छोङते नहीँ…
वादा अगर किसी से करे तो तोङते नही..
अगर तोङ दे दिल कोई आहिर का,
तो बिना हाथ पैर तोङे छोङते नही………..@

लोग कहते है …
तुजे तेरी “आहिर गीरी” एक दिन मरवायेंगी,
मेने प्यार से कहां कया करु ?
सबको आती नहि और मेरी जाती नहि………..@

बेशक ताज के पत्तों में लाखों गवा दिये,
पर रुतबा आज भी ईतना है कि,
बेगम आज भी हमारे ईशारो पे चाल चलती है………..@

हम वफा की दुनिया के बादशाह हे ,
और …
हमारी रियासत में बेवफा को मुजरा करने की भी इजाजत नही मिलती,
फिर चाहे वो रानी हो या राजकुमारी ………..@


नीलाम कुछ इस कदर हुए,
बाज़ार-ए-वफ़ा में हम आज,,
बोली लगाने वाले भी वो ही थे,
जो कभी झोली फैला कर माँगा करते थे………..@

मिल सके आसानी से…
उसकी ख्वाहिश किसे है?
जिद्द तो उसकी है…
जो मुकद्दर में लिखा ही नही है………..@

आज़ाद कर दूंगा तुमको अपनी मुहब्बत की क़ैद
से ,
करे जो हमसे बेहतर तुम्हारी क़दर पहले वो शख्स
तो ढूँढो………..@

दुआओ को भी अजीब इश्क है मुझसे…
वो कबूल तक नहीं होती मुझसे जुदा होने के डर से ………..@

जुक के बात करने की आदत बना ले ,
काफी फायेदे में रहोगे ;
क्युकी ….
आज भी आँखे मिला कर बात करने की तेरी औकात नही हे………..@

WhatsApp Status latest 016 & Hindi Shayari & Funny Whatsapp Status,Funny Whatsapp Status quotes in English and Hindi,whatsapp status funny,best whatsapp status,cool whatsapp status,updates,whatsapp status ideas,whatsapp status love,funny whatsapp status messages,funny whatsapp status download
funniest myspace status,stock vector funny whatsapp status.


You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.